खुशखबरी SEBI शेयर बाजार मैं निवेशकों के लिए कर सकता है नियमों में बदलाव

SEBI का परिचय

SEBI – Security Exchange Board Of India भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड
प्रतिभूति और वित्त का नियामक बोर्ड है।
SEBI भारतीय प्रतिभूति और नियामक बोर्ड एक नियामक निकाय कि स्थापना 12 अप्रैल 1992 को हुई। सेबी का मुख्यालय मुम्बई, महाराष्ट्र में स्थापित है। इसके अध्यक्ष की नियुक्ति केंद्र सरकार द्वारा की जाती है।
वर्तमान में इसके अध्यक्ष माननीय माधबी पुरी बुच जी है। एवं SEBI के बोर्ड में नौ सदस्य होते हैं।

SEBI की विशिष्ट शक्तियां


SEBI अधिनियम के नियम इस स्वायत्त निकाय को तीन प्रकार की शक्तियाँ प्रदान करते हैं:

  • अर्ध-न्यायिक,
  • अर्ध-विधायी और
  • अर्ध-कार्यकारी।

SEBI की कार्यप्रणाली

SEBI की परिभाषा के अनुसार, इस नियामक निकाय की मुख्य भूमिका भारतीय पूंजी एवं शेयर बाजार के कार्य को नियंत्रित करना है. इसका उद्देश्य भारतीय सिक्योरिटीज़ मार्केट को संचालन नियंत्रण, देखरेख और सुरक्षा करना है। SEBI का मुख्य उद्देश्य निवेशकों के हितों की सुरक्षा करना और नियमों और विनियमों को शामिल करके एक सुरक्षित निवेश वातावरण को बढ़ाना है।
इस प्रकार SEBI द्वारा निवेशकों के हितों के लिए सुरक्षात्मक एवं संरक्षणात्मक काम किया जाता है।

SEBI के 5 प्रमुख कार्य

  • SEBI ने वित्तीय मध्यस्थों और कॉर्पोरेट के कुशल कामकाज के लिए दिशानिर्देश और आचार संहिता तैयार करना ।
  • एक कंपनी को लेने के लिए नियम स्थापित करना।
  • स्टॉक एक्सचेंजों की नियमित पूछताछ और ऑडिट आयोजित करना।
  • शेयर बाजार में लिस्टेड कंपनियों की गतिविधियों पर ध्यान रखना
  • म्यूचुअल फंड की प्रक्रिया को नियंत्रित करना।

SEBI द्वारा यह किया जा सकता है महत्वपूर्ण बदलाव

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड SEBI अध्यक्ष माननीय माधबी पूरी बीच जी द्वारा अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस वार्ता में कुछ ऐसे विषय पर चर्चा की गई हैं। जिससे यह स्पष्ट होता है कि उनके द्वारा कुछ महत्वपूर्ण नियमों में बदलाव किया जा सकता है।
भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड SEBI के अध्यक्ष महोदय द्वारा कहा गया है कि अब हमारे द्वारा इंसटेंट ट्रेडिंग सेटेलमेंट प्रणाली पर विचार किया जा रहे हैं। जिसके अनुसार निवेशक यदि शेयर खरीदते हैं तो उसी दिन उनके डीमेट अकाउंट में शेयर दिखाई देने लगेगा। यदि वह भेजते हैं तो उसी दिन शेयर का पैसे डिमैट अकाउंट में प्राप्त हो जाएगा। अगर संभव हुआ तो यह प्रणाली 1 अगस्त से लागू कर दी जाएगी।

अगर यह प्रणाली आती है तो निवेशक को को अपने पैसे प्राप्त करने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा यह शेयर बाजार में निवेशकों के लिए बहुत अधिक महत्व रखती है।

SEBI द्वारा डीलिस्टिंग के नियमों की समीक्षा

SEBI भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड के अध्यक्ष महोदय द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस वार्ता में कहा गया है कि हमारे द्वारा एक विशिष्ट समिति बनाकर डीलिस्टिंग के नियमों की समीक्षा की जा रही है क्योंकि वर्तमान में बहुत से निवेशक 10% से अधिक शेयर खरीद लेते हैं और बेचने के लिए प्रमोटर्स पर उच्च भाव पर खरीदने के लिए दबाव बनाते हैं । इस समस्या से निजात पाने के लिए निश्चित भाव प्रणाली पर विचार किया जा रहा है। इस प्रणाली द्वारा किसी स्टॉक में आने वाले एकदम से मूवमेंट को कम किया जा सकता है जो निवेशकों की सुरक्षा की दृष्टि से बहुत अहम होगा।

SEBI द्वारा किया जा सकता है फ्यूचर एंड ऑप्शन के नियमों में बदलाव

SEBI भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड के अध्यक्ष महोदय द्वारा अपनी प्रेस वार्ता में कहा गया है कि फ्यूचर एवं ऑप्शन के सौदों में कुछ इंसाइडर ट्रेडर्स होते हैं। जिनके पास कंपनी के अंदर की जानकारी होती है जिसके आधार पर वो ट्रेडिंग करते हैं उनके कारण सामान्य निवेशक को नुकसान उठाना पड़ता है। परंतु अब ऐसा करना संभव नहीं होगा क्योंकि अब कुछ ऐसे नियमों पर विचार किया जा रहा है जिसके द्वारा इन इंसाइडर ट्रेडिंग पर प्रतिबंध लगाया जा सके। यह नियम अगर आता है तो शेयर बाजार में सामान्य निवेशकों के लिए बहुत अच्छी खबर है।

SEBI द्वारा अफवाहों पर प्रतिबंध लगा जाएंगे


SEBI भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड के अध्यक्ष महोदय द्वारा अपनी प्रेस वार्ता में कहा गया है कि कुछ लोग भ्रामक प्रचार फैलाते हैं जिसके कारण निवेशक उस ब्राह्मण तब पर विश्वास करके सही निर्णय नहीं ले पाते अतः हमारे द्वारा या प्रयास किया जा रहा है कि ऐसे भ्रामक तथ्य फैलाने वालों को प्रतिबंधित किया जाएगा।

SEBI द्वारा म्यूच्यूअल फंड के महत्वपूर्ण मत

SEBI भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड के अध्यक्ष महोदय द्वारा अपनी प्रेस वार्ता में कहा गया है कि लिमिटेड पर्पज क्लीयरिंग एवं बैंक स्टांप सुविधा को शुरू किया जाएगा जो म्यूच्यूअल फंड के निवेशक को के लिए सबसे महत्वपूर्ण है।

देशवासियों के सुरक्षा से जुड़ी एक महत्वपूर्ण खुशखबरी

पीएम किसान सम्मान निधि 28 जुलाई किसानों को मिलेंगे14वीं किश्त

SEBI की आधिकारिक वेबसाइट

क्या आप जानते हैं 

SEBI टोल फ्री नंबर क्या हैं?

SEBI टोल फ्री नंबर 1800 266 7575

Leave a Comment